Facilities- Library

ग्रंथालय 


“पुस्तकें पारस पत्थर होती हैं। अपने ज्ञान के स्पर्श से वे इंसान को सोना ही नहीं बल्कि दूसरा पारस पत्थर बना देती है।”


महाविद्यालय में एक समृद्ध ग्रंथालय है। वर्तमान में 12500 (बारह हजार पांच सौ) से अधिक पुस्तके स्नातक की है। ग्रंथालय में विभिन्न में समाचार पत्र एवं पत्रिकाएं भी मंगाये जाते है। अनुसूचित जाति, जनजाति के छात्र छात्राओं के लिये नि:शुल्क पुस्तकें, प्रदान करने की बुक - बैंक योजना कार्यान्वित की जाती है। जिसके अंतर्गत अनुसूचित जाति / जनजाति के छात्र/छात्राओं को सत्रांत तक छात्रों के बीच एक सेट पुस्तकें नि:शुल्क प्रदान की जाती है। जिन्हें परीक्षा उपरांत वापस लिया जाता है। सामान्य छात्र / छात्राओं को नियमानुसार ग्रंथालय से पुस्तकें प्रदान की जाती है ।

 

1. महाविद्यालय में निर्धारित सुरक्षा निधि लेकर छात्र/ छात्राओं को नियमानुसार ग्रंथालय का सदस्य बनाया जाता है ।

2. पुस्तकालय में पुस्तको का निर्गमन तथा वापस लेना ग्रंथालय के नियंत्रण में रहता है । जिसके लिये उनके द्वारा निर्धारित नियमो का पालन आवश्यक है नियम का उल्लंघन करने पर छात्र दण्डित होगे ।

3. ग्रंथालय में विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं के पठन की सुविधा है ।

4. ग्रंथालय में महाविद्यालय के समस्त छात्र-छात्राओं को 30 दिनो के लिये तीन पुस्तक निर्गमित की जावेगी।

5. ग्रंथालय से ली गई पुस्तक यदि 30 दिनो के बाद न लौटाई गई तो प्रति पुस्तक प्रतिदिन एक रुपये के हिसाब से अर्थदण्ड देय होगा । जिसका भुगतान शिक्षण शुल्क की किश्त के साथ अनिवार्य रूप से करना होगा । पुस्तकों को पुनः निर्गम कराने का नियम है ।


विभिन्न प्रकार के ई-रिसोर्सेस फ्री में उपलब्ध हैं जिनका लिंक निचे दिया गया हैं -


1.  DOAJ (Directory of Open Access Journals)  
2
.  DOAB (Directory of Open Access Books)  
3
. e-PGPathshala for PG Students

4. Consortium for Educational Communication
5. E-contents by MHRD, Govt. of India

                          


Scroll to Top